Kumar Sanu Kuch Na Kaho Lyrics

Song Credits:
Song – Kuch Na Kaho
Singer – Kumar Sanu

Kumar Sanu Kuch Na Kaho Lyrics

Kuch na kaho kuch bhi na kaho
Kuch na kaho kuch bhi na kaho
Kya kehna hai kya sun-na hai
Mujhko pata hai, tumko pata hai

Samay ka yeh pal, tham sa gaya hai
Aur is pal mein koi nahi hai
Bas ek main hoon bas ek tum ho
Kuch na kaho kuch bhi na kaho

Kitne gehare halke
Shaam ke rang hain chhalke
Parvat se yun utare baadal
Jaise aanchal dhalke

Kitne gehare halke
Shaam ke rang hain chhalke
Parvat se yun utare baadal
Jaise aanchal dhalke

Aur is pal mein koi nahi hai
Bas ek main hoon bas ek tum ho
Kuch na kaho kuch bhi na kaho

Sulagi sulagi saansein
Behki behki dhadkan
Mehke mehke shaam ke saaye
Pighle pighle tan man

Sulagi sulagi saansein
Behki behki dhadkan
Mehke mehke shaam ke saaye

Pighle pighle tan man
Aur is pal mein koi nahi hai
Bas ek main hoon bas ek tum ho

Kuch na kaho kuch bhi na kaho
Kya kehna hai kya sun-na hai
Mujhko pata hai, tumko pata hai

Samay ka yeh pal, tham sa gaya hai
Aur is pal mein koi nahi hai
Bas ek main hoon bas ek tum ho!

Kumar Sanu Kuch Na Kaho Lyrics in Hindi

कुछ ना कहो, कुछ भी ना कहो
कुछ ना कहो, कुछ भी ना कहो
क्या कहना है, क्या सुनना है

मुझको पता है, तुमको पता है
समय का ये पल, थम-सा गया है
और इस पल में, कोई नहीं है

बस एक मैं हूँ, बस एक तुम हो
कुछ ना कहो, कुछ भी ना कहो
कितने गहरे हलके, शाम के रंग है छलके

परबत से यूँ उतरे बादल, जैसे आँचल ढलके
कितने गहरे हलके, शाम के रंग है छलके
परबत से यूँ उतरे बादल, जैसे आँचल ढलके

और इस पल में, कोई नहीं है
बस एक मैं हूँ, बस एक तुम हो
कुछ ना कहो, कुछ भी ना कहो

सुलगी सुलगी साँसें, बहकी बहकी धड़कन
महके महके शाम के साए, पिघले पिघले तनमन
सुलगी सुलगी साँसें, बहकी बहकी धड़कन

महके महके शाम के साए, पिघले पिघले तनमन
और इस पल में, कोई नहीं है
बस एक मैं हूँ, बस एक तुम हो

कुछ ना कहो, कुछ भी ना कहो
क्या कहना है, क्या सुनना है
मुझको पता है, तुमको पता है

समय का ये पल, थम-सा गया है
और इस पल में, कोई नहीं है
बस एक मैं हूँ, बस एक तुम हो

Music Video of Song Kuch Na Kaho by Kumar Sanu:

Song Credits:
Song – Kuch Na Kaho
Singer – Kumar Sanu

Kumar Sanu Kuch Na Kaho Lyrics